कवि निर्दोष लक्ष्य जैन जी द्वारा रचना

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 17, 2020
सत्य अहिंसा            स्वरचित         सत्य अहिंसा धर्म अपना ले                        इससे बड़ा न धर्म है कोई         इसी से है तेरी   भलाई ...Read More
कवि निर्दोष लक्ष्य जैन जी द्वारा रचना कवि निर्दोष लक्ष्य जैन जी द्वारा रचना Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 17, 2020 Rating: 5

दलित साहित्य अकादमी के नेशनल पुरस्कारों  में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय 'बदलाव मंच' का जलवा

बदलाव मंच अक्तूबर 16, 2020
दलित साहित्य अकादमी के नेशनल पुरस्कारों  में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय 'बदलाव मंच' का जलवा गुमला,झारखण्ड के राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्री...Read More
दलित साहित्य अकादमी के नेशनल पुरस्कारों  में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय 'बदलाव मंच' का जलवा दलित साहित्य अकादमी के नेशनल पुरस्कारों  में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय 'बदलाव मंच' का जलवा Reviewed by बदलाव मंच on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवियत्री अपराजिता कुमारी जी द्वारा रचना “मिसाइल मैन"

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
मंच को नमन  #मिसाइल_मैन 15 अक्टूबर 1931 का शुभ दिन  रामनाथपुरम,रामेश्वरम तमिलनाडु में  जन्मे #मिसाइल_मैन  बुलंद सोच,सादा जीवन  नाम था इनका #...Read More
कवियत्री अपराजिता कुमारी जी द्वारा रचना “मिसाइल मैन" कवियत्री अपराजिता कुमारी जी द्वारा रचना “मिसाइल मैन" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवि चंन्द्र प्रकाश गुप्त "चंन्द्र" जी द्वारा रचना “पालघर से करौली वाया हाथरस , बलरामपुर"

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
शीर्षक-  *पालघर से करौली वाया हाथरस , बलरामपुर*..... करौली बलरामपुर में जो मौन हैं  पूंछो पूंछो वो दानव कौन हैं ओढ़े हुए व्याघ्र चर्म श्वान ...Read More
कवि चंन्द्र प्रकाश गुप्त "चंन्द्र" जी द्वारा रचना “पालघर से करौली वाया हाथरस , बलरामपुर" कवि चंन्द्र प्रकाश गुप्त "चंन्द्र" जी द्वारा रचना  “पालघर से करौली वाया हाथरस , बलरामपुर" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवयित्री डाॅ ज्योत्सना सिंह साहित्य ज्योति जी द्वारा रचना"जीने की कला"

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
"जीने की कला" रंगीन लिबास में सजा अस्तित्व, सांसो की ठोकर से  चलने को मजबूर हो जाए  तो जीवन एक  अशांत यात्रा लगने लगता...Read More
कवयित्री डाॅ ज्योत्सना सिंह साहित्य ज्योति जी द्वारा रचना"जीने की कला" कवयित्री डाॅ ज्योत्सना सिंह साहित्य ज्योति जी द्वारा रचना"जीने की कला" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवि निर्दोष लक्ष्य जैन जी द्वारा रचना “अपना प्यारा चमन धनबाद दोस्तों"

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
अपना प्यारा चमन धनबाद दोस्तों      अपना प्यारा चमन धनबाद दोस्तों                       ये तो झारखंड की है शान दोस्तों       यहां कण कण में ब...Read More
कवि निर्दोष लक्ष्य जैन जी द्वारा रचना “अपना प्यारा चमन धनबाद दोस्तों" कवि निर्दोष लक्ष्य जैन जी द्वारा रचना “अपना प्यारा चमन धनबाद दोस्तों" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवयित्री एकता कुमारी जी द्वारा रचना “ए. पी. जे अब्दुल कलाम""

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
*"बदलाव अंतरराष्ट्रीय नमन मंच" *शीर्षक -*"ए. पी. जे अब्दुल कलाम"  आपसे बढ़ा राष्ट्र का गौरव ! आप रहे इतिहास के बैभव! हे ...Read More
कवयित्री एकता कुमारी जी द्वारा रचना “ए. पी. जे अब्दुल कलाम"" कवयित्री एकता कुमारी जी द्वारा रचना “ए. पी. जे अब्दुल कलाम"" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवयित्री नेहा जैन जी द्वारा रचना “"जल ही जीवन""

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
"जल ही जीवन" आओ कल्पना करते हैं जल के बिना जीने की सूखी नदियाँ, सूखे तालाब न हो कल कल करते झरने का जल सूखे पड़े हो कुँए सारे घर के ...Read More
कवयित्री नेहा जैन जी द्वारा रचना “"जल ही जीवन"" कवयित्री नेहा जैन जी द्वारा रचना “"जल ही जीवन"" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवयित्री मीनू मीना सिन्हा मीनल विज्ञ जी द्वारा रचना “डॉ ए.पी.जे. अब्दुल कलाम भारत के पूर्व राष्ट्रपति"

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
जय मांँ शारदे  नमन मंच  बदलाव मंच साप्ताहिक प्रतियोगिता (9. 10. 2020 से 13. 10 . 2020)  शीर्षक डॉ ए.पी.जे. अब्दुल कलाम         भारत के पूर्व...Read More
कवयित्री मीनू मीना सिन्हा मीनल विज्ञ जी द्वारा रचना “डॉ ए.पी.जे. अब्दुल कलाम भारत के पूर्व राष्ट्रपति" कवयित्री मीनू मीना सिन्हा मीनल विज्ञ जी द्वारा रचना “डॉ ए.पी.जे. अब्दुल कलाम  भारत के पूर्व राष्ट्रपति" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

अनिता ईश्वरदयाल मंत्री जी द्वारा रचना “ए.पी.जे. अब्दुल कलाम"

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
मंच को नमन ए पी जे अब्दुल कलाम कलाम तुझे सलाम तेरी गौरव गाथा बच्चे गाते,  अपने जीवन को सूरज की तरह तपाया, अपने सपनों को साकार कर...Read More
अनिता ईश्वरदयाल मंत्री जी द्वारा रचना “ए.पी.जे. अब्दुल कलाम" अनिता ईश्वरदयाल मंत्री  जी द्वारा रचना “ए.पी.जे. अब्दुल कलाम" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवयित्री सीमा गर्ग मंजरी जी द्वारा रचना “अगले जन्म मोहे बिटिया ना कीजो"

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
काव्य सृजन ... अगले जन्म मोहे बिटिया ना कीजो..  घूँट-घूँट जीवन में अति गरल पिया है,  काटों का ताज पहन ना गिला किया!  बेटी का जन्म लेकर  क्यू...Read More
कवयित्री सीमा गर्ग मंजरी जी द्वारा रचना “अगले जन्म मोहे बिटिया ना कीजो" कवयित्री सीमा गर्ग मंजरी जी द्वारा रचना “अगले जन्म मोहे बिटिया ना कीजो" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवयित्री शशिलता पाण्डेय जी द्वारा रचना “आत्म निर्भर भारत"

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
आत्म निर्भर भारत ******************** अपना भारत देश महान, जहाँ मिलती थी सोने की खान। आत्म निर्भरता और आत्मसम्मान, वहाँ नही कभी होगा देश गुला...Read More
कवयित्री शशिलता पाण्डेय जी द्वारा रचना “आत्म निर्भर भारत" कवयित्री शशिलता पाण्डेय जी द्वारा रचना “आत्म निर्भर भारत" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवि प्रकाश कुमार मधुबनी “चंदन" जी द्वारा रचना ( विषय- मुक्तक)

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
*स्वरचित मुक्तक* जिंदगी में अभी ख्वाब अधूरा है। पल पल का अभी हिसाब अधूरा है।। सब कुछ कहाँ सीख लिया हूँ ए जिंदगी। अभी कई प्रश्नों का जवाब अधू...Read More
कवि प्रकाश कुमार मधुबनी “चंदन" जी द्वारा रचना ( विषय- मुक्तक) कवि प्रकाश कुमार मधुबनी “चंदन" जी द्वारा रचना ( विषय- मुक्तक) Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवि निर्दोष लक्ष्य जैन जी द्वारा रचना “दोस्त"

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
दोस्त                     स्वरचित      वो जान से प्यारा होता है                 वो सबसे न्यारा  होता है       जो सबसे प्यारा  होता है       ...Read More
कवि निर्दोष लक्ष्य जैन जी द्वारा रचना “दोस्त" कवि निर्दोष लक्ष्य जैन जी द्वारा रचना “दोस्त" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5

कवयित्री डॉ. अलका पाण्डेय जी द्वारा रचना “राही गा आशा के गीत"

माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर अक्तूबर 16, 2020
दोहे -  राही गा आशा के गीत  सत्य की होती जय है , गाये जा तू गीत !  खुशी सत्य के साथ है , जीवन लेगा जीत !! मिले आनंद गीत से, सुनते है संगीत !...Read More
कवयित्री डॉ. अलका पाण्डेय जी द्वारा रचना “राही गा आशा के गीत" कवयित्री डॉ. अलका पाण्डेय जी द्वारा रचना “राही गा आशा के गीत" Reviewed by माँ भगवती कंप्यूटर& प्रिंटिंग प्रेस मुबारकपुर on अक्तूबर 16, 2020 Rating: 5
Blogger द्वारा संचालित.