शुक्रवार, 15 जनवरी 2021

दिनेश चंद्र प्रसाद "दीनेश" जी द्वारा अद्वितीय रचना#नया साल नए संकल्प#

बदलाव अंतरराष्ट्रीय-रा
दिनाँक-३१-१२-२०२०
विषय-नया साल, नए संकल्प, 2021
शीर्षक- " नया साल, नए संकल्प"
आओ आओ हे नव वर्ष 2021
रहे न कोई किसी से उन्नीस बीस

तेरा  स्वागत करते हैं सब हम 
पाकर खुशियां भूलाकर सारे गम 

सारे मिल नाचे गाएं ,गाये मुन्ना मुनिया
खुश रहे हैं सभी देश हो चाहे दुनिया 

नये साल का है एक ही सपना 
खुश हाल रहे सारा देश अपना 

प्रेम एकता भाईचारा हो सदा
गम रहे कम  खुशियां ज्यादा 

बच्चे सब   मिलकर नाचे  गायें
नाचे गाए  सभी खुशियां मनाएं 

आता नवबर्ष साल में एक ही बार 
खुशी मनाते मिलकर सभी नर नार 

है ये त्यौहार बड़ा ही अजब अनोखा 
प्रेम भाव से रहे सभी हो न कोई धोखा 

आओ सब मिल कुछ नया करें 
दिल से दिल की हम सब बात करें

भूल जाएं  हम सब पुरानी बातें 
खट्टी मीठी तीखी कड़वी सब जज्बाते , 

"दीनेश" सब मिलकर कुछ ऐसा करें
एक दूसरे से मिल हम सब प्यार करें 

रहे सब मिलकर ,यही सब दुआ करें
आओ मिलकर नववर्ष का स्वागत करें
 
दिनेश चंद्र प्रसाद "दीनेश" कलकत्ता
रचना मेरी अपनी मौलिक रचना है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें