रविवार, 27 दिसंबर 2020

सुरेन्द्र मिन्हास बिलासपुर हि प्र द्वारा खूबसूरत रचना#

राष्ट्रीय बदलाव मंच साप्ताहिक प्रतियोगिता 

दिनांक::23-12-2020
विषय: आत्मनिर्भर भारत: शिक्षा के क्षेत्र में योगदान 
विधा:: काव्य हिन्दी 
   होगा भारत महान् 
मेरे गाओं की लडकी अब 
          दहलीज से बाहर आई है।
बराबरी का हक़ उन्हें दे कर 
          मां बाप ने खूब पढाई हैं।।

उच्च शिक्षित हो कर उसने 
   परिवार का नाम चमकाया है ।
प्रतियोगी परीक्षा में आगे 
     रह कर उच्च पद पाया है ।।

गाओं गाओं गली गली आज 
        शिक्षा की पहुंची है किरण ।
 लड़कियां कूदी लड़कों संग 
         जीता जीवन का हर रण।।

निरक्षरता का कलंक नहीं 
      अब बच्चा बच्चा गा रहा ।
गाये भैंस चराना छोड कर 
      दहलीज स्कूल की जा रहा।।

किताबें दे रही अब सरकारें 
       साथ कपड़ों के दे रही थान।
पर मा बाप की इच्छा यही 
   बच्चे भी रखें उनका सम्मान ।।

पढा लिखा समाज बना रहे 
       और शिक्षित पा रहे हैं मान ।
शिक्षित विकसित भारत होगा 
       विश्व में होगा भारत महान।।

   सुरेन्द्र मिन्हास बिलासपुर हि प्र

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें