गुरुवार, 19 नवंबर 2020

कवयित्री सविता मिश्रा जी द्वारा रचना

मंच नमन 

बदलाव मंच 
विषय - छठ पूजा
 विधा - कविता
दिनांक - 19-11-2020
दिन - गुरुवार 

आस्था का महापर्व है छठ पूजा l
श्रद्धा का महापर्व है छठ पूजा ll

कार्तिक मास शुक्ल पक्ष चतुर्थी से शुरू होता है यह महापर्व l
चार दिवसीय होता है यह महापर्व ll

पहला दिवस नहाय खाय से होता है शुरू यह महापर्व l
व्रतधारी चावल लौकी चने की दाल खाय इस महापर्व ll

द्वितीय दिवस होता है खरना इस महापर्व के l
पूरे दिन व्रत रखे व्रतधारी,शाम को खाय खीर-पूरी इस महा पर्व के ll

तृतीय दिवस भी व्रत रखे व्रतधारी l
शाम को डूबते हुए सूर्यदेव को दे अर्घ्य व्रतधारी ll

चतुर्थ दिवस को उगते हुए सूर्यदेव को दे अर्घ्य l
हो इस तरह इस महापर्व का समापन ll 

जय छठी मैया...... जय सूरज देव..... 

सविता मिश्रा (शिक्षिका, समाजसेविका और लेखिका) 
वाराणसी उत्तर प्रदेश 
स्वरचित और मौलिक रचना

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें