सोमवार, 23 नवंबर 2020

कवि निर्मल जैन 'नीर' द्वारा 'देश महान' विषय पर रचना

देश महान....
*******************
देश महान~
तन-मन-धन है
सब कुर्बान
सबसे न्यारा~
विश्व पटल पर
सबसे प्यारा
अभिमान है~
अद्भुत इतिहास
स्वाभिमान है
वो है गद्दार~
जिसे भी भारत से
नहीं है प्यार
बढ़े सम्मान~
कभी कम नही हो
देश का मान
*******************
निर्मल जैन 'नीर'
ऋषभदेव/उदयपुर
राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें