रविवार, 8 नवंबर 2020

अशोक शर्मा वशिष्ठ जी द्वारा बेहतरीन रचना#

आज भारत के सपूत और वीर सेनानी मेजर सोमनाथ शर्मा का बलिदान दिवस है उन्हें याद करते हुए पुष्पांजलि अर्पित करता हूँ

           मेजर  सोमनाथ शर्मा
      भारत के सपूत मेजर सोमनाथ शर्मा को प्रणाम
राष्ट्र हित मे आए काम
ऊंचा किया देश का नाम
खुशी खुशी पिया शहादत का जाम

     कर्नल अमरनाथ शर्मा की वीर संतान
डाढ़ (जिला कांगड़ा हिमाचल प्रदेश) उनका जन्मस्थान
बचपन से था धार्मिक रूझान
दादा जी से ग्रहण किया गीता का ज्ञान

          शेरवुड कालेज नैनीताल से की पढ़ाई
रायल सैन्य कालेज से सैनिक शिक्षा पाई
जो उनके सैनिक अभियान में बहुत काम आई
भारतीय  सेना की शान  बढाई

    परमवीर चक्र पाने बाले बने प्रथम सेनानी
शत्रुओं को याद दिला दी थी नानी
देश ने आपकी प्रतिभा पहचानी
अपनी शौर्य से लिखी वीरता की  अमर कहानी

       द्वितीय विश्वयुद्ध में हिस्सा लिया
अपने रणकौशल को सिद्ध किया
भारत का  नाम दुनिया मे रोशन किया
जापानी फौज को  ध्वस्त किया

   अराकान और मलय सैनिक अभियान का सफल नेतृत्व किया
शत्रु सेना को बुरी तरह पराजित किया
ब्रिटिश शासन ने उन्हें मैनशन्ड इन डिस्पैच से शामिल किया
उनकी शानदार सैनिक सेवाओं के लिए सम्मानित किया

  जब भारत ने स्वतंत्रता पाई
पूरे देश ने खुशियां मनाई
पाकिस्तान को हमारी खुशी रास न आई
घुसपैठियों को घाटी मे भेज कर छेड़ी लड़ाई

       मेजर सोमनाथ के नेतृत्व मे घुसपैठियों को धूल चटाई
साहसी जीवटता और गंभीर चोट के वाबजूद हिम्मत दिखाई
सैनिकों का मनोबल बढ़ाया और अंत मे वीरगति पाई

     ऐसे वीर जांबाज सैनिक को देश का प्रणाम
देश हित मे हुए कुर्बान

         अशोक शर्मा वशिष्ठ।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें