मंगलवार, 13 अक्तूबर 2020

कवि बृंदावन राय सरल सागर जी द्वारा रचना “भारत के दिल में बसे, सबसेश्रेष्ठ कलाम"

,डा,, अब्दुल कलाम
१३/१०/२०२०रचना,,,गेय,,
भारत के दिल में बसे, सबसे
श्रेष्ठ कलाम।।
राष्ट्र पति थे देश के,किये
विलक्षण काम।।

विश्व मिसाइल मेंन का ,देता था
सम्मान।।
जिनके कारण विश्व में, बड़ीदेश
की शान।।

शक्ति शाली राष्ट्र कर ,देश किया
मजबूत।।

जिनको माना विश्व ने,सच्चा
राष्ट्र सपूत।।

आओ सब मिलकर करें,शत शत
इन्हें प्रणाम।।
जन जन के मन में मिलें,प्रियवर
श्रेष्ट कलाम।।

बृंदावन राय सरल सागर एमपी

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें