बुधवार, 21 अक्तूबर 2020

प्रवीण डी. पंड्या जी द्वारा विषय एकता पर खूबसूरत रचना#

एकता
हौसले बुलंद हो देश के लिए
मन में एकता हो वतन के लिए
कुर्बानी याद हो शहीद के लिए
देश का विकास हो देश के लिए 

 आए हे दिवस तो मनाने के लिए
शहीदों की याद दिलाने के लिए
आत्मा की शांति को अमर के लिए
ज्योति जलती रहे शहीदो के लिए


गाथा सुनकर देश तो मौन के लिए
हर चक्र उसे मिले वीर के लिए
माँ भभक कर रो पड़ी प्रेम के लिए
कुर्बानी याद करेगा देश शहीदों के लिए 

दी फ़िल्म राइट्स एसोसिएशन मुम्बई
रचनाकर :- प्रवीण डी. पंड्या
वस्सी जिला -डूंगरपुर(राज.)

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें