मंगलवार, 20 अक्तूबर 2020

पूजा परमार सिसोदिया जी द्वारा बिषय बात धर्म की पर खूबसूरत रचना #

बदलाव मंच को नमन 
दिनांक_ 20/10/20
दिन_ मंगलवार
शीर्षक_ तुम बात धर्म की करते हो

इंसानियत का लिबास पहन कर 
तुम बात धर्म की करते हो

देखते नहीं कर्मो को
बस हिन्दू मुस्लिम करते हो ।

अरे उखाड़ फेंको उस मुखौटे को
जो देश प्रेम का लगा रखा

ज़रा देखो भारत माता को
हर मजहब का बेटा बना रखा ।

बुलंदियां नहीं पूछती है
कि तुम किस मजहब से ताल्लुक रखते हो

वो देखती है हुनर तुम्हारा
तुम कितनी हिम्मत रखते हो ।

इंसानियत का लिबास पहन कर
तुम बात धर्म की करते हो ।

पूजा परमार सिसोदिया
आगरा ( उत्तर प्रदेश )
pujaparmar89@gmail.com

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें