शनिवार, 3 अक्तूबर 2020

कवयित्री योगिता चौरसिया जी द्वारा 'राष्ट्र पिता महात्मा गांधी,शास्त्री जी' विषय पर रचना

बदलाव मंच
2/10/2020
विधा-सोदोका 5-7-7-5-7-7
राष्ट्र पिता महात्मा गांधी,शास्त्री जी
 -------- - - - - - - - --- 
हे राष्ट्रपिता
पूज्य महात्मा गांधी
भारत की शान हैं
लाल बहादुर
शास्त्री पहचान हैं
कोटि कोटि प्रणाम।

सत्य अंहिसा
का पाठ हैं पढ़ाये
आजादी  हैं दिलाये
   साबरमती
के संत हैं महान्
शांति की है मिशाल।

जय जवान
जय किसान  नारा
सफल हैं सिध्दांत
रामराज्य की
कल्पना हैं साकार
सर्व धर्म सामान

उच्च विचार 
सत्याग्रह संकल्प
 देश हुआ आजाद
गुणों की खान
शास्त्री गांधी दोनों के
हुये है अवतार।
स्वरचित/मौलिक
अप्रकाशित
योगिता चौरसिया
मंडला म.प्र.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें