मंगलवार, 29 सितंबर 2020

कवयित्री एकता कुमारी जी द्वारा रचना

*"विश्व ह्रदय दिवस की बहुत बहुत शुभकामनाएं "*
................................... 
जिंदगी जिससे साँसें लेती,मेहरबान दिल है, 
दिलवर का है आशियाना,वो मकान दिल है।
सागर से गहरी भावनाओं पर है,इसका पहरा,
दर्दीले आँसू पी कर बिखेरता मुस्कान दिल है।

तुम्हारे हृदय के कोने में हमारा ही वास हो, 
ताउम्र चलती रहे ये जिन्दगी की साँस हो। 
कहने को दुनियाँ में अपने बहुत मुकाम हैं, 
लेकिन,हृदय में बसने वाले तुम ही खास हो।
               **एकता कुमारी **

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें