बुधवार, 16 सितंबर 2020

कवि- आ. अरविन्द अकेला जी द्वारा सुंदर रचना...

कविता 

आओ करें हम हिन्दी से प्यार 
------------------------------
आओ करें हम हिन्दी से प्यार,
इसके बिना हो जीना दुश्वार,
हिन्दी में पढें,हिन्दी में हम बोलें,
हिन्दी से हीं हम रखे सरोकार।

हिन्दी निराला महावीर की भाषा,
जिसपर हम सबका  अधिकार,
हिन्दी बनेगी पुरे विश्व की भाषा,
यह सच्चे भारतीय का विचार।

हिन्दी में हम पढायें बच्चों को,
हिन्दी में हम सिखायें संस्कार,
हिन्दी में हम हर काम करें,
हिन्दी की करें जय जयकार।
            -----0----
           अरविन्द अकेला

1 टिप्पणी: