रविवार, 13 सितंबर 2020

विषय - हिन्दी हमारी शान# आदरणीय नीलम डिमरी द्वारा रचना..

नमन वीणा वादिनी
दिनांक--13/09/2020
विषय--- हिंदी हमारी शान है
विधा---- गीत
   =================

हिंदी हमारी शान है, 
हिंदी हमारी आन है,
हम हिंदू यह देश हमारा,
यह राष्ट्र की पहचान है। 

एकता के सूत्र में बंधी, 
हर घर की पहचान है।
 राष्ट्र का गौरव बढ़ाती,
यह हमारा अभिमान है।।

कुछ तुम बोलो, कुछ हम बोले
 यह हमारी जुबान है।
कुछ तुम समझो कुछ हम समझे, 
हिंदी का तो गुणगान है।
 हिंदी हमारी शान है,
हिंदी हमारी आन है।

 मातृभाषा यह हमारी,
 हम करते इसका मान है।
 मोहक और मिठास वाली,
 इस पर सब कुछ कुर्बान है।
 हिंदी हमारी शान है,
 हिंदी हमारी आन है।

    
     रचनाकार नीलम डिमरी
       चमोली,,, उत्तराखंड

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें