शुक्रवार, 4 सितंबर 2020

तुम्हे हार नही मानना चाहिये# निशांत वैद्य "निश" जी के द्वारा#

Date: 2/9/2020
Time: 9:10pm

गीत: कि तुम्हे हारना मानना चाहिए

कितनी भी मुश्किल हो,
तुम्हे हमेशा मुस्कुराना ही चाहिए,
कितनी भी बड़ी तकलीफ हो तोह,
यह मत सोचो,
कि तुम्हे हारना मानना चाहिए|

देश केे लिए खड़े रहो,
भगवान का नाम जपो,
हर एक चीज़ का हल होना चाहिए,
अगर तुम्हे तौफे नहीं मिले तोह,
 इसका मतलब यह नहीं,
की तुम्हे हार मानना चाहिए|

इंसान की लड़ाई में,
गलत की ठुकाई में,
तुम्हे शर्व शक्तिमान होना चाहिए,
जीते नहीं तोह भी क्यों हो जाएगा,
इसका मतलब यह नहीं,
कि तुम्हे हार मानना चाहिए|

सुशांत की लड़ाई में,
अच्छाई की लड़ाई में,
सबको साथ होना चाहिए,
कितने भी बार तुम हारे हो तोह,
 तुम्हे हार मानना नहीं चाहिए|

सेना का साथ दो,
मदद करना तुम भी सीखो,
ऐसा काम तुम्हे भी आना ही चाहिए,
लोग जाने नहीं तोह भी क्या हुआ,
इसका मतलब यह नहीं,
की तुम्हे हार मानना चाहिए|

किसी का रंग गोरा,
तोह किसी का काला है,
इसका मतलब यह नहीं,
कि उसका मज़ाक उड़ाना चाहिए,
हो सकता हो,
कि वोह तुमसे ज्यादा कमाता हो,
इसका मतलब यह नहीं,
कि तुम्हे हार मानना चाहिए|

गोली की आवाज़ से,
पानी की रफतार से,
तुम्हे डरना नहीं चाहिए,
देश को तुम्हारी मदद चाहिए हो तोह,
 तुम्हे उनके काम आना ही चाहिए,
तुम्हे अपना काम जारी रखना ही चाहिए,
माड़िया वाले चाहे जो भी,
कहे तुम्हारे बारे में,
पर तुम्हे हार मानना नहीं चाहिए|

इंटरनेशनल कवि

निशांत वैद्य "निश"

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें