रविवार, 27 सितंबर 2020

कवयित्री शालिनी चितलांगिया "सौरभ" जी द्वारा 'बेटी' विषय पर रचना

..............प्यारे माँ पापा...........
वजूद आपका...जीवन मेरा....
गोद आपकी......गुलशन मेरा.....
चरण आपके.....वंदन मेरा........
मुस्कान आपकी...अभिमान मेरा..
बात आपकी.......वचन मेरा......
आंँचल आपका...सुकून मेरा.....
सांसे आपकी...संसार मेरा.......
सपने आपके....जुनून मेरा.......
सपने आपके.....मंजिल मेरी......
धड़कन आपकी...संगीत मेरा......
पंख आपके....उडा़न मेरी.....
नाम आपका.....पहचान मेरी....
आशीर्वाद आपका.आसमान मेरा.
खुशियांँ आपकी...जहान मेरा....
सम्मान आपका......गर्व मेरा......
सुरक्षा आपकी...फर्ज मेरा......
छांँव आपकी....आशियाना मेरा...
सीख आपकी...खजाना मेरा......

-शालिनी चितलांगिया "सौरभ"

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें