गुरुवार, 17 सितंबर 2020

समय सबसे बड़ा बलवान#श्री भास्कर सिंह माणिक ( कवि एवं समीक्षक) कोंच जी द्वारा रचित शानदार रचना#

मंच को नमन
विषय - समय सबसे बलवान

जीवन में इतना रखें ध्यान
होता समय सबसे बलवान

जो करते हैं काम समय पर
होता उसका मान समय पर
वही तो चढ़ते हैं शिखर पर
जो रखते हैं नजर समय पर

मिलता नित्य सूरज से ज्ञान
होता समय सबसे बलवान

कौरव   दल  हारा   अर्जुन  से
हरण  हुआ  मृग आकर्षण  से
द्रोण लाचार  हुए एकलव्य  से
विजय मिली दधिचि अर्चन से

गाएं  युग  ने समय के गान
होता समय सबसे बलवान 

नूतन  पृष्ठ   रचे  है   समय  ने
राजा   रंक   बनाए   समय  ने
पालन करती प्रकृति समय का
तोड़े   अवरोध   को  समय  ने

हुए  सफल  धैर्य  से  धैर्यवान
होता  समय  सबसे  बलवान
-------------------------------------
मैं घोषणा करता हूं कि यह रचना मौलिक स्वरचित है।
भास्कर सिंह माणिक ( कवि एवं समीक्षक) कोंच

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें