सोमवार, 28 सितंबर 2020

कवि डॉ.जयप्रकाश नागला जी द्वारा 'कोरोना' विषय पर रचना

हिन्दू है या मुसलमान है ,साहब , 
बताओ कोरोना कौन है ,साहब ।

भूक प्यास ही सबकी जरूरत है , 
यही  धर्म और ईमान है ,साहब ।

किसने भेजा है इसको , पता करो , 
 अमरीका , चीन सब मौन है, साहब ।
 
गरीब व मजदूर को चलते रहना है , 
जबतक जान में जान है ,साहब  ।
 
इंसानियत अब भी बाकी है लोंगो में , 
लेकिन बहुत लोग शैतान है ,साहब ।

उसकी भोली सूरत पर ना जाओ , 
वो तो डेंजर झोन है , साहब । 

 डॉक्टर और पुलिस को दुवाएं देना सब , 
 आजकल ये  सब के  भगवान है,साहब । 
   
 डॉ. जयप्रकाश नागला , 
  डॉक्टर , पुलिस व सभी कोरोना वारियर्स को समर्पित ग़जल ।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें