रविवार, 13 सितंबर 2020

गौधनभारत भारत भाग्य विधाता# बाबूराम सिंह कवि जी द्वारा#

🔥गोधनभारतभाग्य विधाता🔥
*************************
Hशान्ति     सफलता   समरसता
गोआलन  गऊसेवा  से   आता।
गोधन  भरत   भाग्य    विधाता।

भारतीय गौरव स्वास्थ सुधारक,
यक्ष  कीर्ति   सदज्ञान  प्रचारक।
सत्य सुपथ  बल   वैभव  धारक ,
आधि-व्याधि  का  मूल निवारक।
धर्म   सनातन   गऊ     सेवा   है,
सम्पति सुचि शुभसुख का दाता।
गोधन   भारत   भाग्य   विधाता।

शान्ति  चैन गति-मति  का  दाता,
जन-जीवन   का  भाग्य  विधाता।
शोर्य    शान्ति    माधुर्य     महक,
धन   अनूप   गोसेवा   से   आता।
गोसेवा        गोपालन       गोधन,
भवसागर     से    पार     लगाता।
गोधन   भारत  भाग्य     विधाता।

सरल सुलभ  विभवों  की आकर,
सकल    पदार्थ   देव     दयाकर।
परम  पुनीत   सत्कर्म    सुधाकर,
शुभ  सूचक   सौभाग्य   दिवाकर।
उन्नत   जीवन   स्वर्ग   मोक्ष   नर,
गऊ   पालन    सेवा    से   पाता।
गोधन   भारत   भाग्य    विधाता।

प्रेम    एकता       भाई        चारा,
गोधन   से   शुभ   सीख   पसारा।
अमितउपकार निःस्वार्थका बहता,
गऊ  माता  से   अविरल    धारा।
गऊ  माता  की  पद  कमलों  का,
भक्ति   सुपावन  प्रभु  को   भाता।
गोधन   भारत    भाग्य    विधाता।

सृष्टि  पालन   संहार  कर्ता  सादर,
गऊ   माँ   को   हैं  शीश  झुकाते।
अहो  नराधम !  माँ   सम   पूज्या,
गऊ   का   जो   हैं वध   करवाते।
गोवध   बन्द   करो  जन-जन को,
"बाबूराम कवि"   शीश   झुकाता।
गोधन    भारत   भाग्य    विधाता।

*************************
बाबूराम सिंह कवि
बड़का खुटहाँ , विजयीपुर 
गोपालगंज(बिहार)841508
मो0नं0- 9572105032
*************************

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें