रविवार, 13 सितंबर 2020

हिन्दी दिवस#विनोद सिल्ला जी द्वारा शानदार रचना#

हिन्दी दिवस

हिन्दी दिवस पर
देखकर हर दुकान
हर प्रतिष्ठान
मैं था हैरान
जिन पर था लिखा
अंग्रेजी में नाम
जबकि मैं था
हिन्दी का चाहवान
घूमा शहर तमाम
अंत में देखी
एक दुकान
लिखा था जिस पर
हिन्दी में नाम
दुकान का था नाम
ठेका शराब देशी

देखूं हिन्दी की दुर्दशा
या करते देखूं नशा
कुछ समझ नहीं आया
यूं हिन्दी दिवस मनाया

-विनोद सिल्ला©

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें