रविवार, 16 अगस्त 2020

अजातशत्रु अटल

दिनांक--16-08-2020
दिन- 

शीर्षक-अजातशत्रु अटल
🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻
स्वरचित रचना
* * * * * * * * * * * * *
सबसे मिलकर के रहते थे,
मुस्काता चेहरा थी पहचान।
वह राजनीति के अजातशत्रु,
विरोधी भी करते थे सम्मान।

विपक्ष के नेता थे फिर भी,
सरकार ने उनको दिया मान।
सयुंक्त राष्ट्र भेजे दल का,
नेतृत्व  किया  उन्हें  प्रदान।

वह भाषण देने मे महारथी,
दार्शनिक ओर कवि महान।
सयुंक्त राष्ट्र में जब भी गए,
हिन्दी में ही दिया व्याख्यान।

यातायात गति बढाने को,
स्वर्णिम चतुर्भुज किया निर्माण।
नदियों को जोड़ चाहते थे,
बाढ़ अकाल का समाधान।

पड़ोसी को पाक समझकर के,
बस से लाहौर सफर किया।
नापाक कारगिल मे घुसा तो,
सेना को कहकर ठोक दिया।

राष्ट्र हित को सर्वोपरि मान,
जीवन कर दिया राष्ट्र के नाम।
परिवार राष्ट्र को मान लिया,
अटल बिहारी जी था उनका नाम।
🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏
नाम-रमेश चंद्र भाट
पता-टाईप-4/61-सी,
रावतभाटा, चितौड़गढ़,
राजस्थान।
मो.9413356728

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें