गुरुवार, 6 अगस्त 2020

मेरी चिंता राम ही करेंगे...*..

मेरी चिंता राम ही करेंगे...*.. 
मैं तो श्रीराम का पुजारी, हूँ राम का,* 
*मेरी चिंता राम ही करेंगे,*
*राम ही करेंगे, राम ही करेंगे.*..... 
*तेरी हर महिमा का करूँ मैं गुणगान*, 
*मेरी चिंता राम ही करेंगे...*.. 

*जीवन मेरा तेरे हवाले*.... 
*जग में मिलता है तुमसे ही सम्मान,*, 
*कि मेरी चिंता राम ही करेंगे.*.... 

*रावण कितना ज्ञानी दानी*.. 
*उसकी मति ने कर दिया संहार*
*सोने की लंका धू धू जली*.. 
*कि मेरी चिंता राम ही करेंगे*... 

*आज्ञाकारी, शिष्टाचारी*, 
*त्याग महल बन गए संन्यासी,* 
*वन में कितनों का किया उद्धार,* 
*मेरी चिंता राम ही करेंगे*......

*तेरी चरणों में है यही अरदास,* 
*रोम रोम में राम का है अब वास,* 
*कि मेरी चिंता राम ही करेंगे*....
*डॉ सत्यम भास्कर "भ्रमरपुरिया", दिल्ली*

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें