मंगलवार, 7 जुलाई 2020

रंगीन नाव

दिनांक: 06.07.2020
दिवस: सोमवार
विधा:बालगीत 
प्रकार-स्व:रचित एवम मौलिक
शीर्षक- "रंगीन नाव''

बारिश आई झम-झम-झम
नाव बनाते हम-हम-हम
नाव बहाई कागज की
भीगे कागज टम-टम-टम

जाकर पानी में छप-छप-छप
उठा के लाए गीली नाव को
रखी हथेली पर जैसे ही
टूट गई वो झप-झप-झप

गीले टुकड़े नाव के बह गए
पानी में फिर सब-सब-सब
आँसू निकले खूब जोर के
आंखों से सबकी टप-टप-टप

देख के बहते आँसू ढेर-से
कागज लाई मम्मी रंग-बिरंग
शोर मचाती रंगीन नाव हमारी
कैसे निकली देखो पम-पम-पम

डॉ. लता (हिंदी शिक्षिका),
नई दिल्ली
©

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें