शनिवार, 25 जुलाई 2020

लोग भूल जाते है।


बदलवाव मंच
25/7/2020

कविता
स्वरचित

लोग भूल जाते है


लोग भूल जाते है।
अपनो से बात करना 
ज्यादा मुलाकात करना।
बुरी चीजों से ऐतिहात रखना।

लोग भूल जाते है।
किसी रोते को हँसाना।
किसी गिरते को उठाना।
अकेलापन दूर करने को
आपबीती सुनना सुनाना।।

लोग भूल जाते है।
अपना मित्र बनाकर।
कोई अच्छा चित्र बनाकर।
किसी को अपना जान बताकर।

लोग भूल जाते है।
किसी गैरों से बात करके 
किसी घटना को आँखों देखके।
किसी पुराने चीज को को फेककर।।

लोग भूल जाते है।
किसी के उपकार को।।
अपने माँ बाप के प्यार को।
घर से मिले अच्छे संस्कार को।।

लोग भूल जाते है।
सप्ताह में एक बार मंदिर जाना।
दोस्तों के संग दो पल बैठ बतियाना।
किसी के दर्द कम करने 
को उसे ठेस ना पहुँचाना।

नाम प्रकाश कुमार
मधुबनी,बिहार

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें